जीवन

कुछ चीजें जो बढ़ सकती है और उसमे कई गुना तक बदलाव होता है, उसे जीवन माना जाता है। हम जीवन की कई किस्मों से घिरे हुए है, लेकिन उनमें से मानव जीवन इन सबमें प्रमुख और सबसे अधिक गुणों वाला है। इस ग्रह पर मनुष्य में अन्य जीवन को प्रभावित करने की शक्ति है। जो कुछ आज, अभी और इस क्षण है - वह जीवन का सच है और बाकी सब मित्थ्या है।

नसीब

इतना भी नसीबखराब नहीं होना चाहिए की,जिंदगी, दोस्त, मोहब्बत,तीनो ही बेवफा निकले..!तेनालीराम और बूढ़ा ज़मींदारकिसी गांव में एक बड़ा ज़मींदार रहता था, जिसका नाम था राजा बालाधित्य. वह बहुत ही अमीर और शक्तिशाली था, लेकिन उसकी बुरी आदतें उसे अपने लोकप्रियता से दूर कर रही थीं। वह लोगों के...

दीवार पे फूल

उससे टकरा के मर गई तितली,किसी ने दीवार पे फूल बना रखा था।बुद्धिमानी की परीक्षा: तेनालीराम की कहानीएक दिन, राजा कृष्णदेव राय को बहुत बड़ी संदेशी चिंता थी। उन्हें एक समस्या का समाधान नहीं मिल रहा था। वे अपने दरबार में उस समस्या के बारे में सोच रहे थे।तभी...

तीन बेहतरीन सलाह

तीन बेहतरीन सलाह-1. सोचो मत, शुरुआत करो2. वादा मत करो, साबित करो3. बताओ मत, करके दिखाओआधा इनाम - हिंदी कहानीयह बात तब की है जब शहंशाह अकबर और बीरबल की पहली मुलाकात हुई थी। उस समय सभी बीरबल को...

कामयाब जरूर बनो

इतने कामयाब तो जरूर बनो कि जो आज, मजाक उड़ा रहे हैं, वो कल शर्मिंदा हो जाए…रेत से चीनी अलग करना - हिंदी कहानीएक बार बादशाह अकबर, बीरबल और सभी मंत्रीगण दरबार में बैठे हुए थे। सभा की कार्यवाही...

नशा मेहनत का

नशा मेहनत का करो ताकि आपको बिमारी भी, सफलता वाली लगें…अकबर का तोता - हिंदी कहानीबहुत समय पहले की बात है। एक बार अकबर बाजार में भ्रमण पर निकले थे। वहां उन्होंने एक तोता देखा, जो बहुत ही प्यारा...

सफलता

सफलता एक ऐसी चीज है जिसे हम अपने जीवन के लक्ष्य प्राप्ति के रूप में परिभाषित करते है। सफलता वह चीज है, जो जीवन में हम पाना चाहते है। असली सफलता केवल अच्छे काम करने में है और बुरे कामों में कोई सफलता नहीं होती है। हमें अपने सपने साकार करने के लिए कड़ी मेहनत और अपने समय का सही उपयोग करने की जरूरत है।

मैंने खुद को

मैंने खुद को वहाँ से उठाया है,जहाँ से लोग पंखे पर लटक जाते है।संघर्षएक बार की बात है, एक आदमी जिसका नाम अर्जुन था, एक बड़ी कंपनी में नौकरी करता था। वह अपने काम में बहुत मेहनती और संवेदनशील था। उसकी कार्यशैली और समर्पण को उसके बॉस भी पसंद...

पहले

गलती ये हुई की क़ामयाब,होने से पहले इश्क़ कर लिया।बच्चे और पुस्तकएक सुनहरे दिन, गर्मियों का समय था, एक छोटे से गाँव में एक छोटा सा गरीब बच्चा नामक राजू रहता था। राजू के पास खुद का खेलने के लिए खिलौने नहीं थे, और उसके पास एक पुस्तक भी...

नशा मेहनत का

नशा मेहनत का करो ताकि आपको बिमारी भी, सफलता वाली लगें…अकबर का तोता - हिंदी कहानीबहुत समय पहले की बात है। एक बार अकबर बाजार में भ्रमण पर निकले थे। वहां उन्होंने एक तोता देखा, जो बहुत ही प्यारा...

इंसान को इंसान

इंसान को इंसान,धोखा नहीं देताबल्कि वो उम्मीदेंधोखा दे जाती है,जो वो दूसरों से रखता है…मोम का शेर - हिंदी कहानीसालों पहले की बात है जब राजा एक दूसरे को पैगाम के साथ ही कुछ पहेलियां भी भेजा करते थे।...

जीवन का उद्देश्य

जीवन काउद्देश्य है कि,उद्देश्य भराजीवन हो…कौवों की गिनती - हिंदी कहानीबीरबल की चतुराई से बादशाह अकबर और सभी दरबार परिचित थे। फिर भी अकबर, बीरबल की चतुराई का परीक्षा लेते रहते थे।ऐसे ही एक सुबह बादशाह अकबर ने बीरबल...

प्रेरणा का शाब्दिक अर्थ मन में उत्पन्न भाव विचार या फिर लक्ष्य की प्राप्ति के लिए काम में लग जाना होता है। इसका अर्थ है इंसान के भीतर की इच्छा, चाहतों, और जरूरतों को पूरा करने के लिए उन्हें काम करने के लिए प्रेरित करने की प्रक्रिया है। प्रेरणा किसी खास आंतरिक कारक या अवस्था को कहते हैं, जो किसी क्रिया को प्रारम्भ करती है तथा उसे जारी रखती है।

किताबों के सामने

तुम किताबों केसामने झुक जाओ,ये तुम्हारे सामने,दुनिया झुका देगी।पढ़ाई के महत्व: ज्ञान की मालासमय के साथ, हमारे समाज में पढ़ाई का महत्व बढ़ता जा रहा है, और शिक्षा हमारे जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा बन चुकी है। यह कहानी एक छोटे से गाँव के एक छोटे से लड़के की है,...

पेट पालना

दुनिया में अपना पेट पालना हीलक्ष्य नहीं होना चाहिए,क्यूँकि यह काम तोकुत्ता भी कर लेता है,आदमी को कोईबड़ा काम करना चाहिए।पेट पालनायह कहानी है एक गांव के एक छोटे से लड़के की, जिसका नाम रमेश था। रमेश एक सरल और सहीमाने छात्र था, लेकिन उसका पेट बहुत बड़ा था,...

कामयाब जरूर बनो

इतने कामयाब तो जरूर बनो कि जो आज, मजाक उड़ा रहे हैं, वो कल शर्मिंदा हो जाए…रेत से चीनी अलग करना - हिंदी कहानीएक बार बादशाह अकबर, बीरबल और सभी मंत्रीगण दरबार में बैठे हुए थे। सभा की कार्यवाही...

नशा मेहनत का

नशा मेहनत का करो ताकि आपको बिमारी भी, सफलता वाली लगें…अकबर का तोता - हिंदी कहानीबहुत समय पहले की बात है। एक बार अकबर बाजार में भ्रमण पर निकले थे। वहां उन्होंने एक तोता देखा, जो बहुत ही प्यारा...

इंसान को इंसान

इंसान को इंसान,धोखा नहीं देताबल्कि वो उम्मीदेंधोखा दे जाती है,जो वो दूसरों से रखता है…मोम का शेर - हिंदी कहानीसालों पहले की बात है जब राजा एक दूसरे को पैगाम के साथ ही कुछ पहेलियां भी भेजा करते थे।...

आदत

आदत किसी प्राणी के उस व्यवहार को कहते हैं, जो बिना अधिक सोच के बार-बार दोहराया जाये। मानवों में धूम्रपान एक आदत का उदाहरण है। अच्छी आदतें जीवन को बेहतर और सफल बनाने के लिए बहुत आवश्यक होती है। यह केवल उनके लिए फायदेमंद नही होता जो इनका पालन करते है। बल्कि ये आपके आस-पास दूसरे लोगों के लिए भी बहुत अच्छा होता है।

साहस

करके दुगुना हौंसला,मंज़िल को ही साध,वापस आधे सफ़र से,होना है अपराध !!सिर्फ एक कदम औरगाँव का एक छोटा-सा लड़का नामक वीर, बहुत ही सामान्य जीवन जी रहा था। उसका सपना था कि वह अपने छोटे से गाँव को बड़े सपनों से भर दे। एक दिन, गाँव में एक बड़ा...

अपनों को गिराने में

अगर अपनों को गिराने मेंआपको जीत मिलती है,तो समझ जाओ,आप बहुत गिरे हुए इंसान हो।संघर्ष से सफलता की ओर - एक किसान की कहानीगाँव के किसान रामलाल बहुत आलसी थे। वह हमेशा अपने खेतों में ज्यादा काम नहीं करते थे और उनका खेती में दिल नहीं लगता था। एक...

समय धन बर्बाद

धन बर्बाद करने वाले दुबारा कमा सकते है, लेकिन, समय बर्बाद करने वाले, ज़िन्दगी बर्बाद कर लेते है…चोर की दाढ़ी में तिनका - हिंदी कहानीअकबर और बीरबल के कई कहानियां प्रसिद्ध हैं। यह कहानियों सभी के दिल में अपनी...

तक़दीर

तक़दीर बदल जाती हैजब इरादे मजबूत हो,वरना जिंदगी बीत जाती हैकिस्मत को दोष देने में…कौवा और कोयल - हिंदी कहानीसालों पहले चाँदनगर के पास एक जंगल था। वहाँ एक बड़ा-सा बरगद का पेड़ था, जिसपर एक कौवा और एक...

तीन बेहतरीन सलाह

तीन बेहतरीन सलाह-1. सोचो मत, शुरुआत करो2. वादा मत करो, साबित करो3. बताओ मत, करके दिखाओआधा इनाम - हिंदी कहानीयह बात तब की है जब शहंशाह अकबर और बीरबल की पहली मुलाकात हुई थी। उस समय सभी बीरबल को...

सामान्य ज्ञान

सामान्य ज्ञान विभिन्न मनोवैज्ञानिकों द्वारा परिभाषित किया गया है, जिसके अनुसार सांस्कृतिक दृष्टि से महत्वपूर्ण ज्ञान जो गैर विशेषज्ञ मीडिया की एक श्रृंखला द्वारा आता है समान्य ज्ञान होता है। विभिन्न शब्दकोशों के अनुसार वो "ज्ञान जो सभी के लिए उपलब्ध है" वो सामान्य ज्ञान है। सामान्य ज्ञान में इसलिए एक विस्तृत श्रृंखला के ज्ञान विषय शामिल होते हैं।

कौन सा सोना सबसे अच्छा 22k या 18k

Which gold is best 22k or 18kचलिए हम इस लेख की शुरुआत सोने की खोज से करते है। सोने की खोज का इतिहास बहुत प्राचीन है और इसका स्पष्ट प्रमाण नहीं है कि कब और कैसे सोना पहली बार मानव द्वारा पाया गया। हालांकि, कुछ ऐतिहासिक जानकारी और खोजे...

कंप्यूटर नेटवर्क क्या होता है

कंप्यूटर नेटवर्क (Computer Network) एक तरीका है जिसके माध्यम से विभिन्न कंप्यूटर और उपकरण आपस में जुड़े होते हैं ताकि वे डेटा और संसाधनों को साझा कर सकें। यह आपको अंतरजगत या वाणिज्यिक उपयोग के लिए डेटा साझा करने में मदद करता है, और इसका उपयोग इंटरनेट, स्थानीय नेटवर्क,...

बिहार – सामान्य ज्ञान (1)

बिहार भारत के उत्तर-पूर्वी भाग में स्थित एक प्रसिद्ध ऐतिहासिक राज्य है और इसकी राजधानी पटना है। यह जनसंख्या की दृष्टि से भारत का तीसरा सबसे बड़ा प्रदेश है जबकि क्षेत्रफल की दृष्टि से बारहवां है। १५ नवम्बर, सन्...

बिहार – सामान्य ज्ञान (2)

सारण जिले में गंगा नदी के उत्तरी किनारे पर चिरांद, नवपाषाण युग (लगभग ४५००-२३४५ ईसा पूर्व) और ताम्र युग ( २३४५-१७२६ ईसा पूर्व) से एक पुरातात्विक रिकॉर्ड है।मिथिला को पहली बार इंडो-आर्यन लोगों ने विदेह साम्राज्य की स्थापना के...

बिहार – सामान्य ज्ञान (3)

सन् २४० ए में मगध में उत्पन्न गुप्त साम्राज्य को विज्ञान, गणित, खगोल विज्ञान, वाणिज्य, धर्म और भारतीय दर्शन में भारत का स्वर्ण युग कहा गया। इस वंश के समुद्रगुप्त ने इस सम्राजय को पूरे दक्षिण एशिया मे स्थापित...

विशेष कलाकार

रबीन्द्रनाथ टैगोर

कवि

रबीन्द्रनाथ टैगोर (७ मई, १८६१ – ७ अगस्त, १९४१) - विश्वविख्यात कवि, साहित्यकार, दार्शनिक और भारतीय साहित्य के नोबल पुरस्कार विजेता हैं। उन्हें गुरुदेव के नाम से भी जाना जाता है। बांग्ला साहित्य के माध्यम से भारतीय सांस्कृतिक चेतना में नयी जान फूँकने वाले युगदृष्टा थे। वे एशिया के प्रथम नोबेल पुरस्कार सम्मानित व्यक्ति हैं। वे एकमात्र कवि हैं जिसकी दो रचनाएँ दो देशों का राष्ट्रगान बनीं - भारत का राष्ट्र-गान 'जन गण मन' और बाँग्लादेश का राष्ट्रीय गान 'आमार सोनार बांङ्ला' गुरुदेव की ही रचनाएँ हैं।

error: Content is protected !!