होमसफलता

कामयाबी वहीं से

जहां अपने छोड़ जाते है कामयाबी वहीं से शुरू होती है, कोई हो न हो, ईश्वर साथ होगा क्योकि वो बड़ा दयालु है…धूर्त बिल्ली का न्याय - हिंदी कहानीबहुत पुरानी बात है, एक जंगल में एक बहुत बड़े पेड़ के तने में एक खोल था। उस खोल में कपिंजल नाम का एक तीतर...

समझते है

हम जिसकी इज़्ज़त करते है वो हमे मजबूर समझते है, हम जिसे बहुत प्यार करते है वो हमें बेवकूफ समझते है...कबूतर और मधुमक्खी - हिंदी कहानीएक समय की बात है। एक जंगल में नदी किनारे एक पेड़ पर कबूतर रहता था। उसी जंगल में एक दिन कहीं से एक मधुमक्खी भी गुजर रही थी...

लोकप्रिय लेख

दिमाग में दो घोड़े

मनुष्य के दिमाग में दो घोड़े दौडते है, एक Negative और दूसरा Positive जिसको ज्यादा खुराक दी जाये - वही जीतता है …नारियल का जन्म - हिंदी कहानीप्राचीन काल में सत्यव्रत नाम के एक राजा राज करते थे। वह प्रतिदिन पूजा-पाठ किया करते थे।...

बच्चों के – मजाकिया चुटकुले

टीचर - पप्पू तुम स्कूल किसलिए आते हो?पप्पू - विद्या के लिए।टीचर - तो क्लास में सो क्यों रहे हो?पप्पू - सर आज विद्या नहीं आई इसलिए...।विज्ञान के टीचर ने छात्र से पूछा…..एलोवीरा क्या होता है ?संता सिंह : जब एक पंजाबी व्हिस्की का...
जहां अपने छोड़ जाते है कामयाबी वहीं से शुरू होती है, कोई हो न हो, ईश्वर साथ होगा क्योकि वो बड़ा दयालु है…धूर्त बिल्ली का न्याय - हिंदी कहानीबहुत पुरानी बात है, एक जंगल में एक बहुत बड़े पेड़ के तने में एक खोल था। उस खोल में कपिंजल नाम का एक तीतर रहा करता था। हर रोज वह खाना ढूंढने खेतों में जाया करता था और शाम तक लौट आता था।एक दिन खाना ढूंढते-ढूंढते कपिंजल अपने दोस्तों के साथ दूर किसी खेत में निकल गया और शाम को नहीं लौटा। जब कई दिनों तक तीतर वापस नहीं आया, तो उसके खोल को एक खरगोश ने अपना घर बना लिया और वहीं रहने लगा।लगभग दो से तीन हफ्तों बाद तीतर वापस आया। खा-खाकर वह बहुत मोटा हो गया था और लंबे सफर के कारण बहुत थक भी गया था। लौट कर उसने देखा कि उसके घर में खरगोश रह रहा है। यह देख कर उसे बहुत गुस्सा आ गया और उसने झल्लाकर खरगोश से कहा, “ये मेरा घर है। निकलो यहां से।”तीतर को इस तरह चिल्लाते हुए देख खरगोश को भी गुस्सा आ गया और उसने कहा, “कैसा घर? कौन सा घर? जंगल का नियम है कि जो जहां रह रहा है, वही उसका घर है। तुम यहां रहते थे, लेकिन अब यहां मैं रहता हूं और इसलिए यह मेरा घर है।”इस तरह दोनों के बीच बहस शुरू हो गई। तीतर बार-बार खरगोश को घर से निकलने के लिए कह रहा था और खरगोश अपनी जगह से टस से मस नहीं हो रहा...
error: Content is protected !!